Sunday, April 18, 2010

लिफ्ट बोर्ड और लड़कियों की मानसिकता...


कल कुछ खरीददारी के सिलसिले में एक माल गया था वहां एक लिफ्ट के पास बोर्ड लगा था....जिसपर कुछ लिखा था...वो जानकारी फ्लोर्स पर लिफ्ट द्वारा जाने के लिए थी...पर मुझे उस बोर्ड में कुछ और जानकारी भी समझ आई ... उस बोर्ड कि फोटो के साथ वो लिख रहा हूँ।


सबसे पहले जी ऍफ़ - मतलब गर्ल फ्रेंड।- फूड्स न शापिंग- येही पर पाईजाती हैं


अब-बी ऍफ़ - मतलब बॉय फ्रेंड- पार्किंग जोन- ये बेचारे येही मिलते हैं इंतज़ार करते हैं


उसके बाद १ ऍफ़- मतलब एक लड़की-वेस्ट साइड और लैंडमार्क (बुक, कार्ड शॉप मतलब कि बुक्स और कपडे की खरीददारी

उसके बाद आखिरी में -२ ऍफ़- मतलब २ लड़कियां- लैंड मार्क (सिर्फ बुक आदि)


आखिरी के २ lines ka मतलब ये लगा कि अकेली लड़की कभी भी कपडे खरीदने किसी और लड़की के साथ नहीं जाती क्योंकि दूसरी लड़की को ड्रेस कि असली कीमत और कहाँ से ली गई है ka पता न चले...पर सिर्फ लैंड मार्क जैसे बुक स्टोरपर अपने को ज्यादा पढ़ाकू दिखाने या किसी लड़के के लिए कार्ड खरीदकर उस साथ वाली लड़की ko जलाने (जलन कि भावना) के उद्देश्य के लिए ले जाती है.

6 comments:

Anonymous said...

क्या बकवास लिख रहे हो!

डॉ .अनुराग said...

फेस बुक पर लिखते तो पसंद का तड़का लगाता......सो यहाँ "दिलचस्प "कह रहा हूँ

Anonymous said...

bahut sahi guru....sahi angel hai

aditya said...

sahi kaha guru

हरि शर्मा said...

bilkul bakbaas

Ravi said...

शायद कुछ लोगों को समझ ही नहीं आया की आप इस तस्वीर से क्या कह गए हैं । बहूत बढ़िया लिखा है आपने ..